Romantic Shayari - रोमांटिक शायरी | लव शायरी - हिंदी शायरी - Page 3


 Page 2                                                                       Page 4


===> गुलसन है अगर सफ़र जिंदगी का <===


गुलसन है अगर सफ़र जिंदगी का, तो इसकी मंजिल समशान क्यों है?

जब जुदाई है प्यार का मतलब, तो फिर प्यार वाला हैरान क्यों है?

अगर जीना ही है मरने के लिए, तो जिंदगी ये वरदान क्यों है?

जो कभी न मिले उससे ही लग जाता है दिल,

आखिर ये दिल इतना नादान क्यों है?




===> कुछ रिश्ते अनजाने में हो जाते हैं <===

कुछ रिश्ते अनजाने में हो जाते हैं !

पहले दिल फिर जिंदगी से जुर जाते हैं !!

कहते हैं उस दौर को दोस्ती….!

जिसमे लोग जिंदगी से भी प्यारे हो जाते हैं !!


===> एक सच्चा दिल सब के पास होता हैं <===

एक सच्चा दिल सब के पास होता हैं !

फिर क्यों नहीं सब पे विश्वास होता हैं !!

इंसान चाहे कितनो भी आम हो….!

वो किसी न किसी के लिए जरुर खास होता हैं !!


===> हर शख्स को दिवाना बना देता है <===

हर शख्स को दिवाना बना देता है इश्क, जन्नत की सैर करा देता है इश्क, दिल के मरीज हो तो कर लो महोब्बत, हर दिल को धड़कना सिखा देता है इश्क



===> तुझसे प्यार का हुआ कुछ <===


तुझसे प्यार का हुआ कुछ अंजाना अंजाम

मशहूर ना हो पाए पर हो गए बदनाम

बहने लगा है लहू अब तो दिल से मेरे

बहता रहे तेरी याद मे ये उम्र तमाम


===> बुझ ना जाए समय के साथ ये शोला <===

बुझ ना जाए समय के साथ ये शोला

अपने सांसो से ये आग जलाए रखना

इश्क़ तुम से है कितना आज है बताना

अपने दर पे यों नज़रें लगाए रखना


===> जब भी उसके नाज़ुक बदन को छूता हूं <===

जब भी उसके नाज़ुक बदन को छूता हूं

समंदर की लहरों सा महसूस करता हूं

छुई मुई सी है मानो वह मेरी जानम

एक छुवन से उसके मुरझाने से डरता हूं


===> हर शख्स को दिवाना बना देता है इश्क <===

हर शख्स को दिवाना बना देता है इश्क,

जन्नत की सैर करा देता है इश्क,

दिल के मरीज हो तो कर लो महोब्बत,

हर दिल को धड़कना सिखा देता है इश्क


===> चाहत में जिस की जमाने को भुला रखा है <===

चाहत में जिस की जमाने को भुला रखा है,

ये मालुम नहीं किसे उसने दिल में बसा रखा है,

ये मालुम है की वो आसमाँ है और मै जमीन,

फिर भी आँखों में उसी का सपना सजा रखा है।


===> दौलत ना शौहरत ना कोई हूर की चाहत है <===

दौलत ना शौहरत ना कोई हूर की चाहत है…

यही पैगाम जहां को मेरे नाम कर देना…

“दोस्तों” मिलें तुम्हे ज़िन्दगी में बेशुमार खुशियाँ…

बस कतरा-ए-मौहब्बत ही मेरे नाम कर देना..

===============================================================

  Page 2                                                                       Page 4


Searches related to: 

Romantic Shayari
रोमांटिक शायरी 
लव शायरी 
हिंदी शायरी


0 comments:

Post a Comment

 
Top