Shayari, बेस्ट Shayari, याद शायरी, हिंदी शायरी,  प्यार शायरी,  इंतज़ार शायरी, दर्द शायरी,  बेबफा शायरी

Page 1                     Page 3


Page 1                     Page 3

===> हमने ये शाम चराग़ों से सजा रक्खी है;​​ <===

हमने ये शाम चराग़ों से सजा रक्खी है;​​
​आपके इंतजार में पलके बिछा रखी हैं;
​हवा टकरा रही है शमा से बार-बार;​​
​और हमने शर्त इन हवाओं से लगा रक्खी है।


===> तुझे मुहब्बत करना नहीं आता …… <===

तुझे मुहब्बत करना नहीं आता ……
मुझे मुहब्बत के सिवा कुछ और नहीं आता ….
ज़िन्दगी गुजारने के बस दो ही तरीके हैं ….
एक तुझे नहीं आता .. और एक मुझे नहीं आता ..


===> साथ नहीं रहने से रिश्ते नहीं टूटा करते <===

साथ नहीं रहने से रिश्ते नहीं टूटा करते …..
वक़्त की धुंध से लम्हे नहीं टूटा करते हैं ….
लोग कहते हैं कि मेरा सपना टूट गया ….
टूटती सिर्फ नींद हैं , सपने कभी टूटा नहीं करते ….


===> कोई दीवाना कहता है, कोई पागल समझता है <===

कोई दीवाना कहता है, कोई पागल समझता है ….. !
मगर धरती की बेचैनी को, बस बादल समझता है……!!
मैं तुझसे दूर कैसा हूँ , तू मुझसे दूर कैसी है…….!
ये तेरा दिल समझता है, या मेरा दिल समझता है…………


===> शायद फिर वो तक़दीर मिल जाये … <===

शायद फिर वो तक़दीर मिल जाये …..
जीवन के वो हसीं पल मिल जाएँ…
चल फिर से बैठें वो क्लास कि लास्ट बैंच पे….
शायद फिर से वो पुराने दोस्त मिल जाएँ …..


===> तेरी आवाज़ की शहनाइयों <===

तेरी आवाज़ की शहनाइयों से प्यार करते हैं…..
तस्सवुर मैं तेरे तन्हाईओं से प्यार करते हैं …..
जो मेरे नाम से तेरे नाम को जोड़े ज़माने वाले …
अब हम उन चर्चों से अब प्यार करते हैं …


===> ना मिलता गम तो बर्बादी के <===

ना मिलता गम तो बर्बादी के अफसाने कहाँ जाते ….
दुनिया अगर होती चमन तो वीराने कहाँ जाते …..
चलो अच्छा हुआ अपनों मैं कोई ग़ैर तो निकला….
सभी अगर अपने होते तो बेगाने कहाँ जाते ……


===> रोया है बहुत तब जरा करार मिला <===

रोया है बहुत तब जरा करार मिला है;
इस जहाँ में किसे भला सच्चा प्यार मिला है;
गुजर रही है जिंदगी इम्तिहान के दौर से;
एक ख़तम तो दूसरा तैयार मिला है।


===> मोहब्बत से खफा तुम भी <===

मोहब्बत से खफा तुम भी, मोहब्बत से खफा हम भी
नहीं तुझमे जफ़ा कुछ भी, नहीं मुझमे जफ़ा कुछ भी
मगर कहते रहे मजबूर से हम इस मोहब्बत में
बड़े हो बेवफ़ा तुम भी , बड़े है बेवफा हम भी


===> याद रूकती नहीं रोक पाने से ….. <===

याद रूकती नहीं रोक पाने से …..
दिल मानता नहीं किसी के समझाने से …
रुक जाती हैं धड़कनें आपके भूल जाने से …..
इसलिए आपको याद करते हैं जीने के बहाने से …


Page 1                     Page 3



0 comments:

Post a Comment

 
Top