गुड मोर्निंग शायरी - Hindi Shayari - Good Morning Shayari

Hindi Shayari, Good Morning Shayari


गुड मोर्निंग शायरी - Hindi Shayari - Good Morning Shayari


===> फूलों ने अमृत का जाम भेजा हैं… <===

फूलों ने अमृत का जाम भेजा हैं…
सूरज ने गगन से सलाम भेजा हैं…
मुबारक हो आपको नयी सुबह …..
तहे दिल से हमने ये पैगाम भेजा हैं …

“सुप्रभात”


===> हर सुबह की धुप कुछ याद दिलाती हैं.. <===

हर सुबह की धुप कुछ याद दिलाती हैं..
हर फूल की खुशबू एक जादू जगाती हैं…
चाहू ना…. चाहू कितना भी यार…
सुबह सुबह आपकी याद आ ही जाती हैं ..

“सुप्रभात”


===> रात गुजारी फिर महकती सुबह आई … <===

रात गुजारी फिर महकती सुबह आई …
दिल धड़का फिर तुम्हारी याद आई..
आँखों ने महसूस किया उस हवा को …
जो तुम्हें छु कर हमारे पास आई ..

“सुप्रभात”


===> हर सुबह तेरी मुस्कुराती रहे.. <===

हर सुबह तेरी मुस्कुराती रहे..
हर शाम तेरी गुनगुनाती रहें…
मेरी दुआ हैं की तू जिस भी मिलें
हर मिलने वाले को तेरी याद सताती रहें…

“सुप्रभात”


===> आँखें खोलो भगवन का नाम लो… <===

आँखें खोलो भगवन का नाम लो…
सांस लो ठंडी हवा का जाम लो…
फिर ज़रा मोबाइल हाथ मैं थाम लो…
और हम से 1 दिलकश सुबह का पैगाम लो

“सुप्रभात”


===> नयी सी सुबह, नया सा सवेरा … <===

नयी सी सुबह, नया सा सवेरा …
सूरज की किरणों मैं हवाओ का बसेरा ..
खुले आसमान मैं सूरज का चेहरा ….
मुबारक हो आपको ये हसीं सवेरा

“सुप्रभात”


===> आप नहीं होते तो हम खो गए होते… <===

आप नहीं होते तो हम खो गए होते…
अपनी ज़िन्दगी से रुसवा हो गए होते…
ये तो आपको “गुड मोर्निंग” कहने के लिए उठें हैं …
वर्ना हम तो अभी तक सो रहे होते ….

“शुभ दिन”


===> ढल रही हैं शबनमी रात <===

ढल रही हैं शबनमी रात हलके हलके
ऐसे मैं ना जाओ सनम , वाला करोए कल के
बिस्तर की सलवटों से मालूम कर लो की
कैसी काटी हैं हमने रात करवट बदल बदल के

“शुभ दिन”


===> अज़ीज़ भी वो हैं <===

अज़ीज़ भी वो हैं , नसीब भी वो हैं
दुनिया की भीड़ मैं करीब भी वो हैं
उनके आशीर्वाद से हैं चलती ज़िन्दगी
खुदा भी वो हैं और तकदीर भी वो हैं

“शुभ दिन”


===> सुबह सुबह ज़िन्दगी की शुरुआत होती हैं <===

सुबह सुबह ज़िन्दगी की शुरुआत होती हैं
किसी अपने से बात हो तो खास होती हैं
हंस के प्यार से अपनों को “शुभ दिन ” बोल दो
फिर तो ख़ुशी अपने आप साथ होती हैं

“शुभ दिन”


===> उठ के देखिये सुबह का नज़ारा <===

उठ के देखिये सुबह का नज़ारा
हवा भी हैं ठंडी और मौसम भी हैं प्यारा
सो गया चाँद और चुप गया हर एक सितारा
कबूल हो आप को, सलामे सुबह हमारा

“शुभ दिन”


===> सुबह शाम तेरी चाहत करूँ <===

सुबह शाम तेरी चाहत करूँ ,
तुझसे ना कभी कोई शिकायत करूँ,
तेरे हसीं लबों पे यूं ही मुस्कान बरक़रार रहे सदा,
मुझमे समाये रहो मेरी धड़कन बनकर,
चाहकर भी तुझको खुद से जुदा ना करूँ ॥

“सुप्रभात”


===> सुबह होते ही जब दुनिया आबाद होती है <===

सुबह होते ही जब दुनिया आबाद होती है
आंख खुलते ही आपकी याद होती है
खुशियो के फूल हो आपके आँचल मे
ये मात्र होंठों पे पहली फरियाद होती है .

“सुप्रभात”


===> नई सी सुबह नया सा सवेरा <===

नई सी सुबह नया सा सवेरा,
सूरज की किरण मे हवाओ का बसेरा,
खुले आसमान मे सूरज का चेहरा,
मुबारक हो आपको ये हसीन सवेरा.


0 comments:

Post a Comment

 
Top